समर्थक

शनिवार, 26 नवंबर 2011

corruption and anna ji's rally

माँ : आज चिंटू के एडमिशन के लिए स्कूल गयी थी , ६ दिन से रोज़ जा रही हूँ | पर हेड मिस्ट्रेस अन्ना जी की रैली में बिजी हैं | ६ दिन से रोज़ सुन रही हूँ कि भ्रष्टाचार विरोधी बैनर आदि बन रहे हैं, मेडम बिजी हैं|"

पापा : तो फिर ? क्या कहा ? कब मिलेंगी ? एडमिशन मिलने की क्या चांसेस हैं ? ऑफिस वालों से कुछ पता चला ?

माँ : हाँ - वो मेडम का अटेंडर कह रहा था - मेडम का एक और बैंक अकाउंट है | स्कूल फीस वाला नहीं - दूसरा अकाउंट | किसी और नाम से | यदि हम इंट्रेस्टेड हैं, तो उस अकाउंट के डिटेल दे देगा - उसमे २०,००० रुपये जमा करवा दें, एडमिशन हो जाएगा |

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें